Saturday, 28 April 2018

ये तस्वीरें बदल सकती हैं एशिया की तकदीर

27 अप्रैल का दिन एशिया के चार देशों भारत, चीन, उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के लिए बेहद खास है। जहां एक तरफ 65 साल में पहली बार उत्तर कोरिया के तानाशाह ने दुश्मनी भुलाकर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति से मुलाकात की। वहीं कोई भारतीय प्रधानमंत्री 30 साल बाद चीन में अनौपचारिक बातचीत के लिए पहुंचा। इससे पहले 1988 में राजीव गांधी अनौपचारिक दौरे पर चीन गए थे। तब 1962 के भारत-चीन युद्ध के 26 साल बाद राजीव ने दोनों देशों के रिश्तों में आई खटास को दूर करने की कोशिश की थी। तत्कालीन चीनी राष्ट्रपति डेंग शियाओपिंग से उनकी मुलाकात काफी हद तक कामयाब भी रही थी। ऐसी ही उम्मीद मोदी के दौरे से भी की जा रही है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

from दैनिक भास्कर https://ift.tt/2I4Kb71


EmoticonEmoticon