Saturday, 7 September 2019

Amity University case, full story of Amity University case, clash on car parking in Amity University, Amity University case ki puri khani, क्या है एमिटी यूनिवर्सिटी केस की पूरी कहानी ?

Tags

 हेलो दोस्तो कैसे हो आप सब , दोस्तो आज का टॉपिक लगभग सभी को पता होगा , दोस्तो आज हम amity यूनिवर्सिटी केस के ऊपर चर्चा करेंगे क्या है ये , आज कल क्यों ये ट्रेंड मैं है,  आप सभी को आज पता लग जायेगा, दोस्तो ये अपने दोस्तों और relatives के साथ जरूर शेयर करे। ज्यादा समय न लेते हुए स्टार्ट करते है।  




 ये बात 28 august की है, amity यूनिवर्सिटी Noida, के 3 स्टूडेंट  (हर्ष, माधव, दिवाकर ) अपनी hyundai i20 लेकर यूनिवर्सिटी के गेट पर पहुचे तो रास्ते के बीच मैं ford endevour खड़ी थी ओर उसमे 2 लडकिया थी, तो उन्होंने कहा कि अपनी गाड़ी हटा लीजिये उन्होंने गॉर्ड से कहा था कि गाड़ी हटवा दीजिये हमे अंदर जाना है,  तो उन्होंने गाड़ी नही हटाई, ओर उलटा सीधा बोलने लगी  लड़को की गाड़ी से एक लड़का जिसका नाम हर्ष था उसने कहा कि आपको तमीज़ नही है क्या एक तो आप रास्ते मे गाड़ी खड़ी कर रखी है और ऊपर से उल्टा बोल रही हो, तो वे  बोली ज्यादा चर्बी है सारी निकाल दूंगी 2 मिनट रुक, जब तो गॉर्ड ने उनकी गाड़ी हटवा दी और गाड़ी अंदर जाने दी।  ओर लड़के क्लास मैं चले गए, 1 घण्टे के बाद वो लड़की 20-25 लड़के लेकर क्लास मैं आगयी , क्लास मैं जो मैडम थी उन्होंने उसे मना किया , तो उसने मैडम की बात नही मानी, ओर उसने हर्ष की तरफ इशारा करके कहा कि ये है येलो टीशर्ट वाला लड़का, तो उन्होंने कुर्सी, टेबल, उठा उठा कर मरना शुरू कर दिया, क्लास मैं ओर लड़के थे उन्हें भी चोट लगी, मैडम को भी चोट लगी,
  तो वो लड़की क्लास से भाग गई, तो उनके जाने के बाद लड़को ने पीसीआर  को इन्फॉर्म किआ तो इन्फॉर्म करने के बाद , हर्ष और माधव आगे तक गए पीसीआर को देखने के लिए की आयी या नही,  तो वहां से 20-25 लड़के निकले हाथ मे रॉड , डंडे, ईंट, पत्थर लेकर तो उन्होंने हर्ष ओर माधव को मारना शुरू करदिया, उन्हें बहुत बेरहमी से मार रहे थे हर्ष के सर से खून निकलने लगा, लेकिन फिर भी वो लड़का जिसका नाम चेतन राव था उसके सर मैं ईंट मारे जा रहा था।  जब उन्हें लगा कि अब ये मरने की हालत मैं है तो वे सब वह से भाग गए।  तो उनके जाने के बाद उनकी पटी करी ,  ओर हॉस्पिटल लेके गए, हर्ष को 7 टांके ओर माधव को 12 टांके आये, माधव की हालत सीरियस थी उसकी इंटरनल ब्लीडिंग हो रही थी तो उसे ICU मैं भर्ती करवाना पड़ा। इसके बाद उनके खिलाफ F. I. R लिखवाने के लिए गए तो वह पता चला कि उन लड़कियो ने पहले से ही  लड़को के खिलाफ F. I. R लिखवा रखी थी कि इन लड़को ने हमे मोलेस्ट किआ है।

 एक ईगो के चक्कर मे उन्होंने 2 लड़को की लाइफ खराब करदी।  दोस्तो हमारा समाज पता नही कोनसी दुनिया मे जी रहा है,  समाज मे ऐसी भी लडकिया है, हर लड़की गलत नही होती लेकिन हर लड़की अच्छी भी नही होती कुछ होती है ,  इन जैसी, जो  कानून का गलत फायदा भी उठाती है,गलती कानून की भी है जो बिना सोचे समझे लड़कियों की बात मानती है,  हमारे देश का कानून ही ऐसा है,  दोस्तो आपको क्या लगता है क्या इन लड़कियो ओर उन 25 गुंडों को सजा मिलनी चाहिए , दोस्तो इसे इतना फैलाओ की ये पोस्ट pm तक पहुच जाए और  उन लड़कों जैसे बहुत से लड़के इसका शिकार होने से बच सके।                                       

                           । धन्यवाद ।


EmoticonEmoticon